ग्राम पंचायत सचिव |

 

ग्राम पंचायत सचिव कैसे बने, ग्राम सचिव बनने के लिए योग्यता, ग्राम सचिव के कार्य, ग्राम सचिव  की सैलरी 

भारत के अधिकांश लोग गांव में रहते हैं और गांव का विकास करने के लिए सरकार निरंतर प्रयास करती रहती है इसी प्रयास की एक अहम कड़ी है ग्राम सचिव जोकि सरकार द्वारा संचालित किया जाता है। 

आज हम इसी के बारे में बात करेंगे कि ग्राम सचिव कैसे बनते हैं उनके क्या-क्या कार्य होते हैं पता उनको वेतन कितना मिलता है या सैलरी कितनी मिलती है।

ग्राम पंचायत सचिव कैसे बने 

ग्राम सचिव गांव के विकास के लिए उत्तरदाई होता है ग्राम सचिव को गांव का सेवक कहते हैं या उसे ग्राम सचिव से भी जाना जाता है। ग्राम सचिव सरकारी सेवाओं को गांव तक पहुंचाने का कार्य करता है उसी के साथ द्वारा वित्त राशि को लाभार्थियों तक पहुंचाने का कार्य भी करता है।

सभी सभी पंचायतों में ग्राम सचिव की नियुक्ति ग्रामीण विकास विभाग सरकारी नियम के अनुसार करती है ग्रामीण विकास विभाग ग्राम सचिव की रिक्त स्थानों को भरने के लिए नोटिफिकेशन जारी करती है या फिर कोई एडवर्टाइजमेंट करती है।

  • ग्रामीण विकास विभाग द्वारा जॉब नोटिफिकेशन जारी करने के बाद आप आवेदन कर सकते हैं
  • आवेदन के पश्चात एक परीक्षा आयोजित की जाती है उस परीक्षा को पास करना होता है।
  • परीक्षा को पास करने के बाद चयन किया जाता है।

आवेदन करने के लिए योग्यताएं

  • आपकी (10+2) पास हो
  • उसके साथ ही आप किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन पास हो
  • ग्राम पंचायत सचिव बनने के लिए आप की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष तथा अधिकतम उम्र 35 वर्ष होनी चाहिए।

ग्राम सचिव एग्जाम परीक्षा पैटर्न

ग्राम पंचायत सचिव की परीक्षा में दो पेपर पूछे जाते हैं पहला पेपर 100 अंक का होता है जिसमें 100 प्रश्न पूछे जाते हैं समय सीमा 2 घंटे की होती। दूसरा पेपर भी कुल 100 अंकों का होता है जिस में भी 100 प्रश्न पूछे जाते हैं और इसकी समय सीमा भी 2 घंटे की ही होती है।


ग्राम पंचायत सचिव की सैलरी

ग्राम पंचायत सचिव की सैलरी लगभग 30000 से लेकर 40000 के बीच होती है।

Leave a Comment